burning girl

आगरा में दिन दहाड़े मनचलो ने लड़की को जिन्दा जलाया

burning girl
agra girl burnt alive

agra girl burnt alive आगरा के लालव गांव में इसी महीने की 18 तारीख को जो घटना घटी वो जान आपका दिमाग खराब हो जायेगा। वहाँ दसवीं क्लास में पढ़ने वाली  एक लड़की को दिन दहाड़े जिन्दा जला दिया गया। लड़की जिन्दा नहीं है लेकिन उसके कातिल अभी भी जिन्दा है और कही घूम रहे होंगे UP पुलिस का और सरकार का मजाक उड़ाते। पीड़ित लड़की लालव गांव के जूता कारीगर की बेटी थी। पीड़ित लड़की का नाम संजनी था और उसके पिता का नाम हरेंद्र सिंह जाटव है।

घर से करीब डेढ़ किलोमीटर नोमिल गांव में लड़की का स्कूल था। अशर्फी देवी इंटर कालेज यहाँ वो दसवीं क्लास में पढ़ती थी। लड़की साईकिल से स्कूल आती और उसी से घर वापिस जाती थी। 18 तारीख को भी लड़की स्कूल आयी पढाई की। लेकिन जब वो घर जा रही थी। तो करीब सवा दो बजे दो बाइक सवार बदमाश आये। उनके हाथ में एक पेट्रोल से भरी बोतल थी। उन्होंने लड़की को रोका और उस पर पेट्रोल डाल कर। आग लगा कर भाग गए।

agra girl burnt alive जी हाँ दिन दहाड़े लड़की को जिन्दा जला दिया गया है। लड़की साईकिल सहित गिर पड़ी लेकिन उसने हिम्मत नहीं हारी। वो जलते हुए सड़क पर गयी और जोर जोर से चीखने लगी। वहाँ से गुजर रहे लोग उसकी आग बुझाने की कोशिश करने लगे। लेकिन आग बुझ नहीं रही थी। तभी वहाँ से गुजर रही एक बस के ड्राइवर ने उसे जलता हुआ देख बस को रोका और कंडक्टर ने उस पर फायर  एक्सटीन्गुइशेर से उस लड़की की आग को बुझाया। तब जाकर आग बुझी।

agra girl burnt alive मौके पर लड़की के माता-पिता और पुलिस पहुंची। लड़की को इमरजेंसी में ले जाया गया। लेकिन लड़की करीब 80 % जल चुकी थी। इसलिए लड़की को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया। लेकिन लड़की को बचाया नहीं जा सका। 20 दिसंबर को लड़की ने दम तोड़ दिया। जब संजनी का शव उसके गांव पहुँच तो पुरे गांव में मातम छा गया। सब लोग गुस्से में थे। मौके पर भीम आर्मी के सदस्य भी पहुंच गए। हंगामा करने लगे। लड़की के शव का अंतिम संस्कार करने सेलोग  मना करने लगे। पीड़ित परिवार के लिए नौकरी और एक करोड़ रुपये की मांग की जाने लगी। लेकिन प्रशासन के आस्वाशन के बाद परिवार मान गया और लड़की का अंतिम संस्कार कर कर दिया। 
21 दिसंबर को डिप्टी सी एम पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। हालाँकि उनकी तरफ से किसी भी तरह की मदद की घोषणा अभी तक नहीं की गयी है। अब बात करते है पुलिस इस मामले में क्या कर रही है। पुलिस ने शक के तौर पर लड़की के ताऊ के लड़के को गिरफ्तार किया। लेकिन पुलिस ने बाद में उसे छोड़ दिया। लेकिन  योगेश ने भी जहर खा कर आत्महत्या कर ली। पुलिस का कहना है की अभी जांच चल रही है। 

कृपया इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंचाने के लिए किसी भी प्लेटफार्म {फेसबुक,ट्वीटर,व्हाट्सप्प,} पर शेयर जरूर करे।

जरूर पढ़े

Leave a Reply