176 सालो से बोतल मे बंद करके रखा गया है यह सिर | Diago alves full story

Diago alves full story  -आपको ये सुनकर बड़ी ही हैरानी होगी कि एक आदमी का कटा हुआ सिर 176 सालो से बोतल में बंद है। शायद आप इस बात पर विश्वास ना करे। लेकिन यह पूरी तरह से सच है। पुर्तगाल विश्वविद्यालय में पढ़ने वाला डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) नाम के एक व्यक्ति का सिर पिछले 176 सालो से बोतल में रखा गया है। डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) का जन्म 1810 में हुआ था। वह मूलरूप से स्पेन का रहने वाला था। लेकिन नौकरी की तलाश में वह पुर्तगाल के एक शहर में आया था। नौकरी ना मिलने और बेरोजगारी के कारन डिआगो अल्वेस (Diago Alves) ने अपराध की दुनिया में कदम रख दिया। इसके बाद डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) ऐसा खूंखार अपराधी बना की उसने कई लोगो को लूटकर मौत के घाट उतार दिया। डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) एक सीरियल किलर बन गया। उसके ज्यादातर शिकार किसान हुआ करते थे। किसान जब शाम को सामान बेच कर घर की तरफ लौट रहे होते थे। तो डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) उनको लूटकर मौत के घाट उतार देता था और उनकी लाश को नदी में फेंक देता था।

वह उनकी लाश नदी में इसलिए फेकता था ताकि पुलिस को कोई सबूत ना मिले। डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) ने दर्जनों किसानो को मौत के घाट उतार दिया था। जब धीरे धीरे किसान गायब हो रहे थे तो स्थानीय पुलिस ने  सोचा कि आर्थिक तंगी की वजह से किसान आत्महत्या कर रहे है। लेकिन जब किसानो के गायब होने की संख्या बढ़ने लगी तो पुलिस ने जांच शुरू कर दी। पुलिस ने जांच में पाया की कोई सीरियल किलर किसानो की हत्या कर लाश को नदी में फेंक रहा है। जब पुलिस ने जांच शुरू की तो डिआगो अल्वेस  (Diago Alves)  हरकत में आ गया। डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) अब समझ चूका था की पुलिस कभी भी उस तक पहुंच सकती है। तो डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) अब तीन साल तक अंडरग्राउंड हो गया। अब जब मामला ठंडा पड़ा तो डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) ने फिर से किसानो की हत्या करना शुरू कर दिया।

Diago alves full story –अब तक डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) का लालच बढ़ चूका था। अब उसने सोचा की क्यों ना एक गैंग बना ली जाए। ताकि ज्यादा से ज्यादा लूटपाट की जा सके। अब वह ऐसे लोगो की तलाश करने लगा जो बेहद गरीब थे और उन्हें रुपियो की शख्त जरुरत थी। जरूरतमंद लोगो को रुपियो का लालच देकर डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) ने एक गैंग बना ली। लूटपाट के लिए उसने भारी मात्रा में हथियार भी खरीद लिए। अब डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) ने गैंग के साथ मिलकर बहुत से लोगो को मौत की नींद सुला दिया। डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) इतना बेरहम था कि वह लोगो की हत्या करके उनकी लाश के टुकड़े-टुकड़े कर फेंक देता था।

लेकिन डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) एक गलती कर बैठा। उसने एक डॉक्टर का क़त्ल कर दिया जिसकी सुचना पुलिस के हाथो लग गई। पुलिस ने डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन जब डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) को टॉर्चर किया गया तो उसने 70 लोगो मारने की बात को कबूल किया। डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) को कोर्ट में पेश किया गया। इसके बाद कोर्ट ने 70 लोगो की हत्या करने के जुर्म में डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) को मौत की सजा सुनाई। अब तक डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) चर्चा का विषय बन चूका था।

अब वैज्ञानिक यह जानना चाहते थे  कि डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) में इतनी क्रूरता कहाँ से आई। वैज्ञानिक उसके मस्तिष्क की कौशिकाओ की जांच कर सके व्यक्तित्व के बारे में पता लगाना चाहते थे। ऐसे में वैज्ञानिको ने कोर्ट से अपील कर डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) के मस्तिष्क की मांग की। कोर्ट ने भी वैज्ञानिको की बात मानते हुए डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) का सिर काटकर वैज्ञानिको को देने का आदेश दिया। डिआगो अल्वेस  (Diago Alves) का सिर आज भी बोतल में सुरक्षित रखा हुआ है।

जरूर पढ़े

Astral travel-अपने शरीर से आत्मा को अलग कैसे करे

THE RUSSIAN SLEEP EXPERIMENT || इंसान की दानवता ?

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *