goverment arts collage katrathal sikar

आर्ट्स कोलेज कटराथल में भिड़े छात्र संगठन, हुआ खूनी खेल

आज एक बड़ी खबर निकल के हमारे सामने आ रही है राजस्थान के सीकर जिले में राजकीय कल्याण महाविद्यालय के आर्ट्स कॉलेज कटराथल में चुनाव के पहले दिन दो संगठन आपस में भिङ गये

 क्या था पूरा मामला

छात्र संगठन एसएफआई ने एबीवीपी के छात्र संगठन के अध्यक्ष प्रत्याशी के ऊपर गाड़ी चढ़ा दी। दोस्तों यह मामला तब शुरू हुआ जब कॉलेज प्रशासन ने एबीवीपी संगठन को कॉलेज में सभा करने की अनुमति दे दी। लेकिन सभा के 5 मिनट ही बचे तो उन्होंने एसएफआई संगठन को सभा की अनुमति देने से मना कर दिया। तो उग्र हुए एसएफआई कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया।

इसी बीच दोनों छात्र संगठन एबीवीपी एवं एसएफआई के कार्यकर्ता आपस में उलझ पड़े। इसी बीच उग्र हुए एक सफाई कार्यकर्ता ने कैंपर गाड़ी को एबीवीपी के कार्यकर्ता के ऊपर चढ़ा दी। जिसे गंभीर हालत में भर्ती करवाया गया। उसके सर में तीन टांके आए एवं एक छात्र जो इसकी चपेट में आ गया। उसकी भी सिर पर गहरी चोट आई। आरोपी गाड़ी को लेकर तुरंत फरार हो गया जबकि एक छात्र गाड़ी से उतर गया। उसे वहीं पर पकड़कर छात्र संगठन एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने वहीं पर पिटाई करनी शुरू कर दी।

छात्र संगठनों ने किया पथराव-

इसी बीच माहौल बिगड़ता गया एवं दोनों संगठनों के कार्यकर्ता आपस में उलझ गए एवं एक दूसरे के साथ मारपीट करने लग गए। इसी बीच कुछ छात्र पत्थरबाजी करने लग गए जिससे कॉलेज में उपस्थित अन्य छात्रों के भी चोटे आई।

पुलिस जाब्ता किया तैनात

इसके बाद माहौल काफी गर्म हो गया जिसे देखते हुए कॉलेज प्रशासन ने पुलिस प्रशासन को सूचित किया। इसके बाद प्रशासन ने तुरंत एक्शन लेते हुए 3 गाड़ियों के अंतर पुलिस जाब्ता कॉलेज में भेजा ।

दोस्तों यह घटना सीकर के पंडित दीनदयाल उपाध्याय यूनिवर्सिटी के एस के आर्ट्स कॉलेज कटराथल मैं हुई।

इस घटना के बाद एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने एसएफआई संगठन से अध्यक्ष पद उम्मीदवार संजय एवं अन्य छात्रों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।

Advertisement

एबीवीपी द्वारा पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया गया। एवं कॉलेज प्रशासन से मांग की कि जिन कार्यकर्ताओं ने मारपीट की उनका कॉलेज में प्रवेश रद्द किया जाए। उन्हें कॉलेज से निकाला जाए।

यह भी पढें:- जिओ गीगा फाइबर क्या है और यह दूसरी ब्रॉडबैंड से अलग कैसे है?

क्या आप का आधार कार्ड सुरक्षित है ?

एसके गर्ल्स कोलेज कि छात्राओं ने भी मचाया हंगामा

इसके अलावा सीकर के एस के हॉस्पिटल के सामने स्थित एस के गर्ल्स कॉलेज की छात्रों के बीच में भी विवाद हो गया।

इसी बीच कुछ छात्राओं ने मारपीट के दौरान एक दूसरे के नुकीली पिन चुभो दी। जिसकी वजह से कई छात्राओं के गहरे घाव हो गए। इसी बीच कुछ पुलिसकर्मी आए एवं झगड़ा कर रही छात्राओं को अलग अलग किया एवं मामले को शांत करने की भरपूर कोशिश की। लेकिन कुछ समय बाद मामला फिर से गर्म हो गया जिसकी वजह से वहां पर पुलिस जाब्ता तैनात किया गया।

देखा जाए तो आजकल कॉलेजों में पढ़ाई का माहौल समाप्त होता जा रहा है। जिसका कारण छात्र संगठनों द्वारा आए दिन किए जाने वाला उत्पाद एवं उग्रवाद है। छात्र संगठनों के मुख्य कार्यकर्ता आपसी रंजिश निकालने के लिए चुनाव का सहारा लेते हैं ताकि जिस छात्र पर भी हमला करें तो वह चुनाव के कारण मामले को दबा दें।

इन हमलावरों के पीछे बड़ी-बड़ी पार्टियों के नेताओं का हाथ होता है जिसकी वजह से पुलिस प्रशासन भी कुछ भी नहीं कर पाता और इन सब की वजह से पढ़ने वाले छात्र एवं छात्राओं की पढ़ाई पर भी बुरा असर पड़ता है। क्योंकि यह संगठन कक्षाओं में जा जाकर के छात्रों को बाहर बुला लाते हैं एवं लेक्चर बंद कर देते हैं। जिसकी वजह से पूरी कक्षाएं नहीं लग पाती एवं इसका नतीजा पढ़ने वाले एवं शांत विद्यार्थियों को भुगतना पड़ता है।
आपको बता दें कि महाविद्यालय में प्रवेश केवल मेघावी छात्रों कोही मिलता है, लेकिन कुछ उग्रवादियों की वजह से ही इनका करियर खतरे में पड़ जाता है।

Advertisement

इस घटना से जुड़ा वीडियो देखे 

https://youtu.be/IEhWN8iNiIo


यह भी पढें :-

गोरा होने के उपाय जिनकी मदद से आप हमेशा के लिए गोरा हो सकते है

जाने इंशाअल्लाह फिल्म से जुड़ी कुछ रोचक बातें

Sacred Games Season-2  डाउनलोड कैसे करे?

Advertisement

Leave a Reply