बालो की देखभाल कैसे करे Hair care tips in hindi

0
16

दोस्तों हमने पिछली कुछ पोस्ट में जाने की कौन-कौन सी गलतियां बालों की समस्या को और ज्यादा बढ़ा देती है  और बालों की अच्छी सेहत के लिए कौन-कौन सी चीजों को अपने खाने में शामिल करना चाहिए। आज की हमारी यह पोस्ट में हम बालों में लगाए जाने वाली चीजों के बारे में  जानेंगे। क्योंकि लड़का हो या लड़की कई बार बालों का झड़ना डैंड्रफ की समस्या बालों का रूखापन और बालों का वक्त से पहले सफेद होने की वजह बालों में लगाए जाने वाले कुछ चीजें भी हो सकती हैं। ऐसा इसलिए होता है कि लगभग 5 से 6 तरीके के प्रोडक्ट होते हैं।  जिसे बालों में इस्तेमाल किया जाता है। जैसे कि शैंपू कंडीशनर तेल  हेयर वैक्स और हेयर मास्क। मैं इन सभी चीजों के बारे में इसलिए नहीं बता रहा की आपको इन सभी चीजों का इस्तेमाल करना है।  बल्कि अक्सर लोग कंफ्यूज रहते हैं कि उन्हें अपने बालों में कौन सी चीजों का इस्तेमाल करना चाहिए और कौन सी चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

मैं इस पोस्ट में उन्हीं सबका कंफ्यूजन को दूर करने की कोशिश करूंगा। क्योंकि बालों की अच्छी सेहत के लिए सही प्रोडक्ट को चुनना और उसे इस्तेमाल करने का सही तरीके का भी पता होना बहुत जरूरी होता है। हालांकि यहां एक बात का ख्याल रखना जरूरी है कि हर किसी को बालों में इतनी सारी चीजें लगाने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं होती। जबकि कुछ लोगों के बाल ऐसे होते हैं कि उन्हें एक दो चीजों का इस्तेमाल करना ही काफी हो जाता है। लेकिन कुछ लोगों के बाल ऐसे होते हैं जिन्हें अपने बालों में सभी चीजों का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी होता है। ये बालों की लंबाई पर डिपेंड करता है। इसलिए आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे कि बालों में कौन-कौन सी चीजों को कब और किस तरह लगाना चाहिए। इन चीजों के क्या क्या फायदे और क्या क्या नुकसान हो सकते हैं। आपको अपने बालों में कौन-कौन सी चीजों का इस्तेमाल करना चाहिए।

शैंपू का इस्तेमाल

मतलब की बाल धोना के लिए शैंपू का इस्तेमाल बालों में शैंपू कब कैसे और शैंपू क्यों लोगों को लगाना चाहिए। दोस्तों बाल धोने के लिए शैंपू एक बेहतर ऑप्शन हो सकता है। इसलिए हर किसी को बाल धोने के लिए साबुन की बजाय शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए। लेकिन अक्सर ज्यादा तरह के शैंपू और बालों में शैंपू करने का तरीका गलत होने की वजह से अक्सर ही शैंपू बाल झड़ने और बालो से जुड़ी दूसरी समस्याओं का कारण बन जाता है।  इसलिए शैंपू सही होने के साथ-साथ उसके इस्तेमाल करने के सही तरीके का भी पता होना बहुत जरूरी होता है। दोस्तों शैंपू का कोई भी इस्तेमाल कर सकता है और इसका काम होता है। सर में और बालों में जमी हुई गंदगी को साफ करना बाहर निकालना। बिल्कुल उसी तरह जिस तरह से फेस वाश चेहरे से धूल मिट्टी और पोलूशन को बाहर निकालता है।

लेकिन यहां पर इस बात का ख्याल रखना जरूरी है कि जिस तरीके से चेहरा तो हर किसी की अलग होता है। उसी तरह बालों में भी तीन अलग-अलग तरह के प्रकार होते हैं। जो कि नॉर्मल ड्राई और ऑइली हेयर टाइप के नाम से जाने जाते हैं. लेकिन यहां समझने वाली बात यह है कि जिन लोगों के हेयर ड्राई होते हैं। उनके सिर के ऊपरी त्वचा और बाल पहले से ही रूखे सूखे होते हैं। इसलिए ड्राई हेयर टाइप वाले लोगों को हफ्ते में एक से दो बार से ज्यादा बालों में शैंपू नहीं करना चाहिए और इसमें भी जब तक कि जरूरी ना हो। बालों में बिना वजह शैंपू करने से परहेज करना चाहिए। क्योंकि शैंपू बालों से धूल मिट्टी और पॉलुशन को रिमूव करने के साथ-साथ नेचुरल आयल को भी काफी हद तक रिमूव कर देता है। जिससे कि रूखे बाल और भी ज्यादा रूखे हो सकते हैं और सर की त्वचा और भी ज्यादा ड्राई हो सकती है।

जिससे कि कभी-कभी डैंड्रफ की समस्या भी हो सकती है। यहां ड्राई स्कैल्प वाले लोगों को एक बात का और ख्याल रखना चाहिए कि शैंपू लगाने के बाद इसे 1 से 2 मिनट से ज्यादा अपने सर में ना रहने दे और बिना वजह हर दिन शैंपू करने से परहेज करना चाहिए।  उससे भी बेहतर यह है कि जब भी आपको शैंपू करना हो। तो नहाने से एक-दो घंटे पहले सर में तेल लगाकर थोड़ी देर के लिए मसाज जरूर करें। ताकि शैंपू यूज़ करने के बाद भी हेयर ज्यादा ड्राई ना हो और जिनकी हेयर टाइप ऑइली है. ऐसे लोगों को 2 दिन में कम से कम एक बार बालों में शैंपू जरूर करना चाहिए।क्योंकि ऑइली हेयर टाइप वाले लोगों के बाल थोड़े चिपचिपी होते हैं और जो की बहुत जल्दी धूल मिट्टी को अपनी तरफ आकर्षित कर लेते हैं. जिसके सही समय पर सफाई न करने से डैंड्रफ और बाल झड़ने की समस्या शुरू हो सकती है।

अब जिन लोगों का हेयर टाइम नॉर्मल है। उन्हें जब भी जरूरत हो बालों में शैंपू कर सकते हैं। क्योंकि नॉर्मल टाइप के बालों में बहुत कम यह समस्या होती है।  इसलिए सिर्फ थोड़ी सी देखभाल से उनके बाल काफी हद तक स्टेबल रहते हैं। अब बात आती है कि किस तरीके के शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए।

किस तरीके के शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए

 

दोस्तों मार्केट में मिलने वाले ज्यादातर शैंपू में टॉक्सिन केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। जिसके लगातार इस्तेमाल से शैंपू ही बालों की समस्या का कारण बन जाता है। इसलिए कोई भी शैंपू खरीदने से पहले डब्बे के पीछे लिखी इंग्रेडिएंट्स की लिस्ट को चेक करना ना भूलें।  अगर उसमें परफ्यूम,एल्कोहल,आर्टिफिशियल कलर  जैसे केमिकल का इस्तेमाल किया गया हो। तो ऐसी शैंपू को बिल्कुल भी ना खरीदें। वैसे तो आप किसी भी कंपनी के केमिकल फ्री शैंपू का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन अगर सस्ते में अच्छी क्वालिटी के शैंपू के की जाए आंवला और भृंगराज शैंपू मार्केट में मौजूद सबसे अच्छे प्रोडक्ट है।

यह दूसरे शैंपू के मुकाबले ज्यादा बेहतर तरीके से काम करते हैं। यह बालों की अच्छी तरीके से सफाई करने के साथ-साथ बालो का झड़ना रोकने में काफी हद तक मदद करते हैं। लेकिन यहां एक बात का ध्यान रखना जरूरी है कि बहुत से डुप्लीकेट शैंपू भी मार्केट में आ चुके हैं। जो कि कपड़ा धोने वाले साबुन से भी ज्यादा  खराब होते हैं। इनकी  बड़ी बात यह है कि वह बालों को बहुत ज्यादा ड्राई बना देता है।

कंडीशनर का बालों में कब कैसे इस्तेमाल करे 

बालों में शैंपू करने के बाद बारी आती है। कंडीशनर लगाने की लेकिन अब यह सवाल उठता है कि बालों में कंडीशनर का क्या काम होता है और किन लोगों को यह लगाना जरूरी है और इसका कब और किस तरह से इस्तेमाल करना चाहिए। दोस्तों जब भी बालों में हम शैंपू करते हैं। तो बालों में से धूल मिट्टी को निकालने के साथ नेचुरल ऑयल को भी काफी हद तक निकाल देता है और उसी को वापस रिस्टोर करने के लिए कंडीशनर का इस्तेमाल किया जाता है। अब यहां बात आती है कि क्यों लोगों के लिए कंडीशनर लगाने जरूरी होता है। दोस्तों यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि कंडीशनर बालों की जड़ो में नहीं बल्कि बालों के ऊपरी हिस्से में लगाया जाता है। क्योंकि बालों की जड़ मे आयल छोड़ने वाली ग्रंथि होती है।

लेकिन लम्बे बालो के ऊपरी हिस्सों तक नेचुरल आयल नहीं पहुंच पाता। इसलिए इसे बाहर से मोइस्ट्राइज करना जरूरी होता है और यही वजह है कि लड़का हो या लड़की जिन लोगों के बाल लंबे होते हैं।तो  ऐसे लोगों के लिए कंडीशनर लगाना ज्यादा जरूरी होता है. जबकि जो लोग छोटे बाल रखते हैं उन्हें कंडीशनर  लगाने की जरूरत नहीं पड़ती है। अब यह सवाल उठता है कि कंडीशनर को कब और किस तरह से इस्तेमाल करना चाहिए। तो बालों में कंडीशनर लगते वक़्त कुछ बातों का ख्याल रखना होता है। सबसे पहले कंडीशनर लगाते वक्त बाल साफ़ होना चाहिए और ना ही बहुत ज्यादा ड्राई या बहुत ज्यादा सूखे होने चाहिए।  इसका मतलब है कि बालों में शैंपू करने के बाद अच्छे तरीके से धोने के बाद बालों को तोलिये से पूछना चाहिए।

उसके बाद कंडीशनर को बालो की जड़ को छोड़कर बाकी के बालों पर ठीक तरीके से लगा ले। अगर आपके बाल बहुत लंबे हैं। तो उंगली की मदद से या उस में कंघी करने की भी कोशिश करें जिससे की कंडीशनर अच्छी तरीके से बालों में लगाए जा सके।  कंडीशनर को बालों में  लगाने के बाद इसे 2 से 3 मिनट तक लगा रहने दें उसके बाद पानी से अच्छी तरह धो ले। बालो को पानी से अच्छी तरह धो कर साफ कर ले। अब बात करे ब्रांड की तो आप किसी भी कंपनी का कंडीशनर लगा सकते हैं. जिसमें कम से कम केमिकल का इस्तेमाल किया गया  हो।

हेयर सिरम बालों में कैसे और क्यों लगाना चाहिए। 

दोस्तों हेयर सिरम एक सिलिकॉन बेस प्रोडक्ट होता है।  जिसे बालों में चमक लाने और बालों को हीट और पोलूशन से बचाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। वैसे तो हेयर सिरम दिखने में हेयर ऑयल जैसा ही होता है। लेकिन दोनों में फर्क यह होता है कि हेयर ऑयल बालों की जड़ों में लगाया जाता है।  जबकि हेयर सिरम बालों के जड़ में नहीं बल्कि बालों के ऊपरी हिस्से में लगाया जाता है। ये लगाए जाने के बाद यह बालों में सिलिकॉन की एक परत लगा देता है. जिससे कि बाल पहले से भी ज्यादा साइन होने लगते हैं और साथ में यह बालों को पीछे टूटने में भी रोकता है। यहां यह बात का ख्याल रखना भी जरूरी है कि बालों को झड़ने से नहीं बल्कि टूटने से रोकता है और बालों का झड़ना और टूटना दोनों अलग-अलग समस्या है। यह सवाल उठता है कि किन लोगों को हेयर सीरम का इस्तेमाल करना चाहिए।

किन लोगों को हेयर सीरम का इस्तेमाल करना चाहिए 

दोस्तों जो लोग लंबे बाल रखते हैं और ऐसे में अगर उनके बाल अक्सर ही ड्राई होकर पीछे टूट जाते हैं। तो ऐसे लोगों को अपने बालों में जड़ से दो-तीन इंच छोड़कर बालों के ऊपरी हिस्से पर हेयर सिरम लगाना चाहिए। क्योंकि इससे बालों में जड़ में लगाने से हेयर फॉल की समस्या भी शुरू हो सकती है और क्योंकि हेयर सिरम सिर्फ बालों के ऊपर के हिस्से में लगाया जाता है। इसलिए जिन लोगों के बाल छोटे हैं। उन्हें इसके इस्तेमाल करने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है।

अब बात आती है कि हेयर सिरम का बालों में कब और किस तरीके से इस्तेमाल करना चाहिए। दोस्तों हेयर सीरम का इस्तेमाल करने से पहले बालों को अच्छी तरीके से पोछ ले और उसके बाद जब बाल हल्के गीले हो तो हेयर सीरम की  एक या दो बूंद अपने हाथों में लेकर पूरे हथेली पर फैलाकर बालों की जड़ से एक से डेढ़ इंच छोड़कर पूरे बालों में लगाने की कोशिश करें।

हेयर वैक्स कब कैसे और किन लोगों को इस्तेमाल करना चाहिए और क्यों इस्तेमाल करना चाहिए 

दोस्तों वैसे तो हेयर वैक्स कोई बालो को फायदा पहुंचाने वाली चीज नहीं है। लेकिन लोग इसका इस्तेमाल करते हैं। इसलिए मैंने भी अपनी इस पोस्ट में शामिल किया है और आपको पता ही होगा कि कुछ लड़केभी  अपने बालों में हेयर वैक्स का इस्तेमाल। बालों को स्टाइल करने के लिए करते हैं। लेकिन इसका इस्तेमाल करते समय कुछ बातों का ख्याल रखना बहुत जरूरी होता है।  जैसे हमे हेयर वैक्स का इस्तेमाल कब करना चाहिए।

हमे ऐसे हेयर वैक्स का इस्तमाल करना चाहिए जिसमे कम से कम केमिकल का इस्तेमाल किया गया हो। क्योंकि अक्सर ही हेयर वैक्स में कई सारे केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। जो कि वक्त से पहले बाल सफेद होने का कारण बन सकता है।

हेयर वैक्स तभी ही लगाएं जब आपको बालों को स्टाइल करना बहुत जरूरी हो और साथ ही साथ इस बात का ख्याल रखें कि इससे सिर्फ बालों के ऊपर हिस्से पर लगाना चाहिए। क्योंकि अगर यह बालो की  जड़ में लग जाए तो बाल झड़ने की समस्या शुरू हो सकती है।  इसे इस्तेमाल करने के बाद जहां तक हो सके  धूप से बचने की कोशिश करें क्योंकि धूप में हेयर वैक्स मेल्ट होकर पसीने के जरिए बालों की जड़ों तक पहुंच जाता है। जो कि बाल झड़ने का कारण बन सकता है और रात में सोने से पहले बालों में लगे वैक्स किसी  को धोकर साफ कर ले और एक बात का ख्याल जरूर रखें कि जिस वक्त आप वैक्स लगाए उस वक्त आपके बालों में दूसरी कोई भी चीज ना लगी हो।

साथ ही साथ यह भी ख्याल रखना जरूरी है कि अगर आपके माल पहले से ही बहुत ज्यादा झड़ रहे हैं। तो आपको कुछ दिनों से लिए हेयर वैक्स के जैसे प्रोडक्ट से दूर ही रहना चाहिए। हालांकि बालों के गिरने की समस्या को किस तरीके से रोका जा सकता है।  उसके लिए आप निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते है।

बालों में तेल कब कैसे और क्यों लोगों को लगाना चाहिएसाथ ही बालों में लगाने के लिए किस तरीके का तेल सबसे ज्यादा अच्छा होता है 

दोस्तों तेल को बालों को मजबूती प्रदान करता है। इसलिए बालों को तेल लगाना बहुत ज्यादा जरूरी होता है। हर किसी के बाल अलग होते हैं इसलिए हर किसी को अलग अलग तरीके से तेल लगाना चाहिए। अगर आपके हेयर टाइप ऑइली है तो हफ्ते में एक बार ही बालों में तेल लगाना काफी हो जाता। लेकिन अगर आपका हेयर टाइप ड्राई है और अक्सर ही स्कैल्प और बालों जेड सुखी रहती  हैं. तो आपको हफ्ते में बालों में कम से कम 3 बार तो तेल जरूर लगाना चाहिए और साथ ही साथ बालों में तेल लगाने के बाद अपनी उंगली की मदद से उसे मसाज करने की कोशिश करें। बालों में तेल लगाने के बाद मसाज करने से यह सिर के ऊपरी त्वचा पर ब्लड का सरकुलेशन बढ़ता है और तेल भी बालों की जड़ों तक अच्छे तरीके से पहुंच पाता है। लेकिन अब बात आती है कि सर में तेल लगाने का सही समय और सही तरीका क्या होता है।

सर में तेल लगाने का सही समय और सही तरीका क्या होता है 

दोस्तों पहले तो बेहतर है कि रात में सर में तेल लगाकर छोड़ दे और उसके बाद सुबह सुबह उठकर धोकर साफ कर ले और अगर आप ऐसा नहीं कर सकते तो नहाने से दो-तीन घंटे पहले बालों में तेल लगाए और फिर साफ कर दे। लेकिन दिन के समय बहुत ज्यादा देर तक या पूरे दिन बालों में तेल लगाकर बिल्कुल भी नहीं छोड़ना चाहिए।  क्योंकि तेल के जो भी फायदे होते हैं वह एक से दो घंटे में हमारे बालों को आसानी से मिल जाते हैं और जरूरत से ज्यादा देर तक तेल बालों में रहता है तो यह धूल मिट्टी को अपनी तरफ खींचता है। जिससे कि डैंड्रफ की समस्या भी हो सकती है। लेकिन अब यह सवाल उठता है कि मार्केट में इतने सारे तेल मौजूद है. उनमें से किस तरीके से तेल का इस्तेमाल करना चाहिए।

दोस्तों सबसे पहले कोई भी तेल खरीदने से पहले आपको उसके डब्बे के पीछे इनग्रेडिएंट्स लिस्ट को जरूर चेक करना चाहिए और अगर उसने एल्कोहल,आर्टिफिशियल कलर,परफ्यूम  चीजों का इस्तेमाल किया गया हो तो ऐसे तेल को बिल्कुल भी ना खरीदें। क्योंकि ऐसे तेल में मौजूद केमिकल बालों के झड़ने और बालों के वक्त से पहले सफेद होने का कारण बनता हैं। इसलिए बेहतर यही है कि जहां तक हो सके कम से कम केमिकल वाले तेल का इस्तेमाल करना चाहिए।

अगर आपके बाल ड्राई और उपर से सुखे रहते हैं। तो सरसों का तेल का इस्तेमाल करें और अगर आपके बाल नॉर्मल ऑयली  है। तो नारियल तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।  डैंड्रफ की समस्या में नीम के तेल का इस्तेमाल करना ज्यादा बेहतर ऑप्शन हो सकता है। आपको थोड़ी बहुत हेयर फॉल होती है और अगर आपने आप बालों को तेजी से बढ़ाना चाहते हैं. तो इसके लिए ऐसे तेल का इस्तेमाल करना चाहिए। जिसमें प्याज के रस का इस्तेमाल किया गया हो। क्योंकि प्याज के रस में सल्फर होता है। जो बालों की ग्रोथ को काफी हद तक बढ़ाता है।अगर आपके बाल ज्यादा झड़ते हैं। तो इसके लिए ऐसे तेल का इस्तेमाल करना ज्यादा बेहतर ऑप्शन हो सकता है। क्योंकि केमिकल फ्री होने के साथ-साथ जिसे बनाने में आंवला और भृंगराज जैसी चीजों का इस्तेमाल किया गया हुआ हो।

बालों में हेयर मास्क कैसे और क्यो  लगाना चाहिए। 

दोस्तों हेयर मास्क हेयर कंडीशनर की तरह होता है। लेकिन इसके मुकाबले ज्यादा गहराई से डालो बालों की कंडीशनिंग करता है। हेयर मास्क ड्राइ हेयर को रिपेयर करने के साथ-साथ में बालों को पहले से ज्यादा स्मूथ और सिल्की बनाता है।  इसलिए इसका इस्तेमाल ऐसे लोगों को करना चाहिए जो अक्सर बालों को कलर या स्टीम करते रहते हैं। क्योंकि बालों को कलर करने और स्टीम करने में जो बाल डैमेज होते हैं। उसे कुछ हद तक हेयर मास्क के जरिए रिपेयर किया जा सकता है।

अब सवाल ये उठता है कि हेयर मास्क का इस्तेमाल कब और किस तरीके से करना चाहिए 

इसके लिए बालों को  पानी से धो लें और उसके बाद बालों में मौजूद पानी को टॉवल की मदद से अच्छी तरीके से साफ कर ले और जब बाल थोड़ा थोड़ा गीला हो। तो जरूरत के हिसाब से हेयर मास्क अपनी उंगली पर लगाकर उसके बालों की जड़ से एक से डेढ़ इंची छोड़कर पूरे बालों में लगाने की कोशिश करें। लेकिन  हेयर मास्क डीप कंडीशनिंग करता है इसलिए आप के सर में किसी भी तरीके की इन्फेक्शन डैंड्रफ  है।

तो इसका इस्तेमाल बालों की जड़ों में भी किया जा सकता है।   हेयर मास्क बालों में बराबर मात्रा में लगाकर 15 मिनट तक  उसे बालों में लगा छोड़ दे और 15 से 20 मिनट हो जाए। तो इसे धीरे-धीरे पानी से धोकर अच्छी तरीके से साफ कर लें। ध्यान रखें कि जिस दिन आप हेयर मास्क लगाते हैं। उस दिन आपको बालों में कंडीशनर करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि यह कंडीशनर की तरह काम करता है। तो इसका हफ्ते 3 बार इस्तेमाल करना काफी हो जाता है।

तो जिन लोगों के बाल छोटे हैं। उनके लिए सन में शैंपू और तेल लगाने काफी हो जाता है. लेकिन जिन लोगों के बाल बड़े हैं। वह बाकी चीजों को अपनी जरूरत के हिसाब से इस्तेमाल कर सकते हैं।

पुरुषों की त्वचा को गोरा करने और दाग धब्बे हटाने के असरदार नुस्खे

विरुद्ध आहार इन चीजों का कभी ना करे एक साथ सेवन

खाना खाने के बाद भूल कर भी न करें यह काम होगी कई बीमारियां

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here