शरीर में इन पोषक तत्वों की कमी से झड़ते है सिर के बाल

दोस्तों बालों की मजबूती और बालो का तेजी से लंबा घना होना और इसका काला रंग बालों की जड़ों से ही आता है। बालों की जड़ों तक सबसे अच्छे तरीके से वही पहुंचता है। जो हम खाते हैं या फिर डायरेक्ट बालों की जड़ों में लगाते हैं। इसलिए इन दोनों ही चीजों का सही होना बहुत ही जरूरी होता है। दरअसल हम जो भी खाते हैं। वह पेट से होकर छोटी आंत में पहुंचता है। जबकि छोटी आंत से खून में पहुंचकर हमारे बालों की जड़ों तक और पूरे शरीर में फैल जाता है। इसलिए हमारे द्वारा खाई जाने वाली चीजो का असर हमारे बाल त्वचा और पूरे शरीर पर अच्छा और बुरा दोनों तरीके से हो सकता है। वैसे तो बालों का झड़ना या वक्त से पहले सफेद होना। कुछ सिचुएशन में जेनेटिक होता है या फिर इसकी वजह कोई बीमारी या फिर किसी दवा का साइड इफेक्ट होता है।

लेकिन ज्यादातर लोगों में बालों का झड़ना या फिर बालों का वक्त से पहले सफेद होना शरीर में पोषक तत्वों की कमी की वजह से होता है।अगर बालों की समस्या शरीर में पोषक तत्व की कमी से हो रही हो। तो सिर्फ बालों में कुछ लगा कर तब तक ठीक नहीं किया जा सकता जब तक की खानपान में बदलाव ना कर लिया जाए। जैसा कि आपको पता ही होगा कि मैंने बालों की समस्या को जड़ से ठीक करने के लिए चार चार से पांच पोस्ट लिखने का वादा किया है। लेकिन किसी भी समस्या को जड़ से खत्म करने के लिए शरीर के अंदर और बाहर दोनों तरीके से इलाज करना बहुत जरूरी होता है। हमने बालों की समस्या से जुड़ी पहले ही एक पोस्ट लिखी है। जिसे आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

यह भी पढ़े :- बाल झड़ना, डैंड्रफ और बाल पकने का असली कारण

इस पोस्ट में हमने ऐसी गलतियों के बारे में जाना है। जो कि बालों की समस्या को और भी बद से बदतर बना देती है। लेकिन आज की इस पोस्ट में हम ऐसे खाने की चीजों के बारे में जानेंगे। जो कि शरीर के अंदर से बालों की समस्या को दूर करने में बहुत ज्यादा मदद करती है। दरअसल ऐसे 13 पोषक तत्व होते हैं। जिनकी कमी की वजह से बालों की समस्या शुरू हो सकती है।

शरीर में इन पोषक तत्वों की कमी से झड़ते है सिर के बाल

प्रोटीन

दोस्तों प्रोटीन हमारे शरीर में मसल रिपेयर,हड्डी,त्वचा और बालों की अच्छी सेहत के लिए बहुत जरूरी होता है। यह हमारे शरीर में एक बिल्डिंग ब्लॉक का काम करता है। यह हमारे शरीर में नए टिशूज को बनाने और खराब हुई टिशूज को रिपेयर करने में बहुत मदद करता है। इतना ही नहीं हमारे सिर के बाल 80% कैरिटीन नाम के प्रोटीन से बने होते हैं। इसलिए शरीर में प्रोटीन की कमी होने से बालों की ग्रोथ बहुत कम हो जाती है और बाल पतले और बहुत कमजोर होने लगते हैं। इसलिए बालों की मजबूती और इनके अच्छे ग्रोथ के लिए अपने खाने में प्रोटीन की सही मात्रा लेना बहुत जरूरी होता है.। अगर आप नॉन वेजिटेरियन है मतलब कि मांस मछली खा सकते हैं।

तो आपके लिए प्रोटीन का सबसे अच्छा स्त्रोत अंडे का सफेद भाग,मछली और चिकन ब्रेस्ट हो सकता है। क्योंकि इन में प्रोटीन की मात्रा सबसे ज्यादा होने के साथ-साथ शुद्ध और हाई क्वालिटी का प्रोटीन होता है। लेकिन अगर आप वेजिटेरियन है तो आपको दूध,पनीर,दाल,चना और सोयाबीन जैसी चीजों को अपने खाने में शामिल जरूर करना चाहिए। लेकिन यहां एक बात का ख्याल रखना चाहिए क्योंकि प्रोटीन एक मैक्रोन्यूट्रिएंट्स है। इसलिए इसकी हमारे शरीर को ज्यादा मात्रा में जरूरत पड़ती है। इसलिए प्रोटीन की कमी को एक अंडा या फिर चिकन की एक या दो बोटी खाकर पूरा नहीं किया जा सकता। इसलिए बेहतर है कि किसी एक चीज पर निर्भर होने की बजाय ऊपर बताए सभी चीजों में से थोड़ा-थोड़ा खाने में शामिल करने की कोशिश करें। ताकि आपके शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा किया जा सके। लेकिन जो लोग खाने की चीजों के जरिए प्रोटीन की कमी को पूरा नहीं कर सकते। वह प्रोटीन सप्लीमेंट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

बायोटीन 

बायोटिन जिसे विटामिन b7 के नाम से भी जाना जाता है। दोस्तों बायोटीन एक वॉटर सॉल्युबल विटामिन होता है। जो कि हमारे द्वारा खाए गए खाने को एनर्जी में कन्वर्ट करने में मदद करता है। साथ ही साथ यह बाल नाखून और त्वचा की अच्छी सेहत के लिए भी बहुत जरूरी होता है। लेकिन बायोटिन एक माइक्रोन्यूट्रिएंट्स होता है। इसलिए इसकी हमारे शरीर को कम मात्रा में जरूरत पड़ती है। जो कि दिन भर में ज्यादा से ज्यादा 300 माइक्रोग्राम काफी हो जाता है। इसलिए ज्यादातर लोगों के शरीर में बायोटिन की कमी नहीं होती। लेकिन कुछ मेडिकल कंडीशन और जो लोग कच्चे अंडे का इस्तेमाल करते हैं। उनके शरीर में बायोटिन की कमी होने के चांसेस बहुत ज्यादा होते हैं। क्योंकि कच्चे अंडे में ऐसा प्रोटीन होता है। जो कि बायोटीन से बाइंडिंग करके बायोटिन को सही से शरीर में अब्सॉर्ब होने से रोकता है।

इसलिए कच्चे अंडे का लगातार सेवन करने से समय के साथ-साथ शरीर में प्रोटीन की कमी होने लगती है। लेकिन जितनी बायोटिन कि हमारे शरीर में दिन भर में जरूरत होती है। उसे खाने की चीजों के जरिए आसानी से पूरा किया जा सकता है। इसके लिए अंडा,बादाम,अखरोट,दूध,दही,गाजर,केला और टमाटर बायोटीन का अच्छा स्त्रोत है। इसलिए इनमे से कुछ चीजों को अपने खाने में शामिल जरूर करें। अंडे से जुड़ी हमने एक पहले ही पोस्ट लिखी है कि अंडा कब कितना और कैसे खाना चाहिए। उसे आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

यह भी पढ़े :- अंडा कब और कितना खाना चाहिए अंडे खाने का सही तरीका

इसलिए इनमे से कुछ चीजों को अपने साथ खाने में शामिल जरूर करे लेकिन आजकल मार्केट में बायोटिन के सप्लीमेंट भी हेयर ग्रोथ के नाम पर आमतौर पर बेचे जाते हैं। इन सप्लीमेंट में मौजूद एक गोली और कैप्सूल में  लगभग 10000 माइक्रोग्राम  बायोटिन होती है। जो कि हमारे शरीर की जरूरत के हिसाब से लगभग 33 गुना ज्यादा होता है। इसलिए बिना डॉक्टर की सलाह के बायोटीन सप्लीमेंट का इस्तेमाल बिल्कुल भी ना करें। क्योंकि अगर आपके शरीर में बायोटिन की कमी नहीं है और आप इसके सप्लीमेंट का इस्तेमाल करते हैं। तो यह फायदे की बजाय नुकसान पहुंचा सकता है।

आयरन 

आयरन हीमोग्लोबिन का एक इंपॉर्टेंट हिस्सा होता है। जो कि ब्लड प्रोडक्शन में काफी हद तक मदद करता है। खासकर आयरन हमारे फेफड़े से ऑक्सीजन को खून के जरिए। बालों की जड़ और शरीर के दूसरे हिस्से तक पहुंचाने का काम करता है। यही वजह है कि औरतों में पीरियड्स और प्रेगनेंसी के दौरान ज्यादा ब्लड लॉस होने की वजह से शरीर में आयरन की कमी हो जाती है। जिसकी वजह से तेजी से बाल झड़ने की समस्या भी शुरू हो जाती है। शरीर में आयरन की कमी होना इतना कॉमन है कि सिर्फ हमारे देश भारत में लगभग एक करोड़ लोग हर्ष हर साल आयरन की कमी के शिकार हो जाते हैं। इसकी कमी मर्द और औरत दोनों के शरीर में हो सकती है। शरीर में आयरन की कमी होने से ब्लड का सरकुलेशन कम हो जाता है। हमारी सांसों के द्वारा लिए गए ऑक्सीजन बालों की जड़ों तक और शरीर के दूसरे हिस्से में ठीक तरीके से नहीं पहुंच पाती है।

इसलिए बाल कमजोर होकर झड़ने लगते हैं। नॉन वेजिटेरियन लोगों के लिए आयरन का सबसे अच्छा सोर्स है। एनिमल लीवर जों की चिकन,बकरे या किसी का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन वेजिटेरियन लोगों के लिए आयरन का सबसे अच्छा सोर्स है पालक। इसके अलावा अंडा,तरबूज,अनार,ब्रोकली,चुकंदर और मछली चिकन और मटर में आयरन की ठीक-ठाक मात्रा पाई जाती है। इसलिए आप इनमें से कुछ चीजों को अपने खाने में शामिल जरूर करें।

विटामिन-सी 

दोस्तों विटामिन-सी चेहरा,बॉडी और बालों की जड़ों में मौजूद त्वचा में कॉलेजन प्रोड्यूस करता है। जिससे कि त्वचा की इलास्टिसिटी बढ़ती है। इससे बालों की जड़ों पर भी मजबूती मिलती है। इतना ही नहीं विटामिन-सी शरीर में आयरन को ठीक से अब्सॉर्ब होने के लिए बहुत जरूरी होता है। जिसका मतलब है कि अगर शरीर में विटामिन-सी की कमी हो जाए। तो आयरन से भरपूर खाना खाने के बावजूद आयरन विटामिन-सी के बिना। हमारे शरीर में ठीक तरीके से अब्सॉर्ब नहीं हो पाता है। तब आयरन की भी शरीर में कमी होने लगती है। इसलिए बालों की अच्छी सेहत के लिए विटामिन-सी को भी अपने खाने में शामिल करना बहुत जरूरी होता है। आंवला,नींबू और शिमला मिर्च,संतरे में विटामिन-सी काफी मात्रा में पाया जाता है।

यह भी पढ़े :- शरीर में विटामिन और मिनरल की कमी होने के संकेत या लक्षण 

ओमेगा 3 फैटी एसिड 

दोस्तों ओमेगा-3 एक तरीके से अनसैचुरेटेड फैट होता है। जिसकी ज्यादातर लोगों के शरीर में कमी पाई जाती है। यह बाल ही नहीं बल्कि हमारे दिल दिमाग और त्वचा के लिए भी बहुत जरूरी होता है। यह त्वचा को सूखने से बचाता है और सिर में डैंड्रफ खुजली और ड्राइनेस से बचाने में बहुत मदद करता है।  इतना ही नहीं इसमें anti-inflammatory प्रॉपर्टीज होने की वजह से। यह शरीर में बड़ी हुई गर्मी को भी कम करने के साथ-साथ ब्लड के सरकुलेशन को भी बेहतर बनाने में बहुत मदद करता है। नॉन वेजिटेरियन भोजन में सिर्फ एक ही ओमेगा-3 का सबसे अच्छा सोर्स होता है। जोकि है मछली और सभी मछलियों में सेलमन,ट्यूना और हैरिंग जैसी मछलियों में सबसे ज्यादा ओमेगा-3 की मात्रा पाई जाती है।

वेजिटेरियन भोजन में फ्लैक्सीड,चिया सीड,बेसिल सीड और अखरोट में ओमेगा-3 की अच्छी मात्रा पाई जाती है। इसलिए इनमे से कुछ चीजों का सेवन जरूर करें। अगर आप खाने के जरिए ओमेगा-3 की कमी को पूरा नहीं कर सकते। तो इसके लिए ओमेगा-3 की सप्लीमेंट का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह भी पढ़े :- omega-3 क्या होता है omega-3 हमारे शरीर के लिए जरूरी क्यों है

सेलेनियम

दोस्त दोस्तों सेलेनियम एक ऐसे तरीके का माइक्रोन्यूट्रिएंट्स होता है। जो कि पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। जिससे कि यह शरीर में फ्री रेडिकल की वजह से होने वाले डैमेज से प्रोटेक्ट करने के साथ-साथ यह थायराइड ग्लैंड को बैलेंस करने में भी बहुत मदद करता है। शायद आपको पता ही होगा कि थायराइड भी बालों के झड़ने का एक बड़ा बड़ा कारण होता है। सेलेनियम बालों को मजबूती प्रदान करने के साथ-साथ वक्त से पहले भी बालों को सफेद होने से बचाता है। ब्राजील नट्स,अंडा,एनिमल लीवर,चिकन ब्रेस्ट और पालक सेलेनियम का अच्छा सोर्स हैं।

विटामिन-बी12 

दोस्तों विटामिन-B12 बालों के गहरे रंग के लिए बहुत जरूरी होता है। इसलिए शरीर में इसकी कमी होने की वजह से वक्त से पहले ही बाल सफेद होने के चांसेस बहुत ज्यादा हो जाते हैं।साथ ही साथ विटामिन-B12 रेड ब्लड सेल के प्रोडक्शन में भी काफी हद तक मदद करता है। इसलिए यह नई हेयर सेल को भी प्रोड्यूस करने और बालों की मजबूती और बालों के अच्छे ग्रोथ के लिए भी बहुत जरूरी होता है। विटामिन-बी12 की कमी होना इतना कॉमन है कि सिर्फ हमारे देश भारत में हर साल लगभग एक करोड़ लोग इसकी कमी के शिकार हो जाते हैं। लेकिन अफसोस की बात यह है कि ज्यादातर वेजीटेरियन भोजन में विटामिन-B12 नहीं पाया जाता है। वेजिटेरियन भोजन में सिर्फ दूध ही एक ऐसी चीज है जिसमें विटामिन-B12 पाया जाता है। नॉन वेजिटेरियन भोजन में एनिमल लीवर,अंडा,चिकन,सेलमैन जैसी मछलियों में काफी मात्रा में विटामिन-B12 पाया जाता है।

विटामिन-डी 

दोस्तों जिन लोगों के बाल झड़ते हैं। उनके शरीर में अक्सर ही विटामिन-डी की कमी पाई जाती है। क्योंकि विटामिन-डी बालों की ग्रोथ के लिए हेयर फॉलिकल को स्टिमुलेट करता है। जिससे कि नए बालों को ग्रो होने में बहुत मदद मिलती है। ऐसे लोग जिनका ज्यादातर समय घर या ऑफिस में गुजरता है और कई कई दिनों तक धूप से सामना नहीं हो पाता है। उनके शरीर में विटामिन डी की कमी होने के चांसेस बहुत ज्यादा रहते हैं। क्योंकि धूप में निकलने से हमारा शरीर ऑटोमेटिक विटामिन-डी प्रोड्यूस करता है। इसलिए 15 से 20 मिनट धूप में बिताने से विटामिन-डी की काफी हद तक पूर्ति हो जाती है। लेकिन अगर आप फिर भी धुप में नहीं निकल सकते। तो आप दूध,मशरूम,पनीर और सेल में जैसे मछलियों में से कुछ चीजों को अपने खाने में शामिल जरूर करें।

फोलिक एसिड 

फोलिक एसिड जिसे विटामिन-B9 के नाम से भी जाना जाता है। दोस्तों फोलिक एसिड खासकर सेल्स के ग्रोथ के लिए महत्वपूर्ण होता है। यह सेल्स जैसे त्वचा,नाखून और बाल में मौजूद होता है। जिससे कि बालों में मजबूती आने के साथ-साथ यह बालों के ग्रोथ को भी इंप्रूव करता है। लेकिन फोलिक एसिड नॉनवेजिटेरियन भोजन में एनिमल लीवर के अलावा ज्यादातर वेजीटेरियन फूड में पाया जाता है। जैसे कि मसूर दाल,पपाया,ब्रोकली,पालक और हरी पत्तेदार सब्जियों में फोलिक एसिड काफी मात्रा में पाया जाता है।

विटामिन-ए 

दोस्तों हमारे शरीर में सभी तरह के सेल्स के बनने के लिए विटामिन-ए की जरूरत पड़ती है। साथ ही साथ विटामिन-ए एक अच्छा एंटी ऑक्सीडेंट होने की वजह से यह स्किन ऑयल को बैलेंस करता है। जो  सिर के ऊपरी त्वचा को मर्सराइज रखने में भी बहुत मदद करता है। विटामिन-ए सिर के ऊपरी त्वचा की सेहत के लिए बहुत जरूरी होता है और यह एक यह भी एक अच्छा एंटी ऑक्सीडेंट होने की वजह से शरीर में बनने वाले फ्री रेडिकल जैसे जहरीले पदार्थ से भी लड़ने में बहुत मदद करता है। बादाम,पालक शकरगंद,शिमला मिर्च और अखरोट में विटामिन ए काफी मात्रा में पाया जाता है। इसलिए आप इनमें से कुछ चीजों को अपने खाने में शामिल जरूर करें।

जिंक 

दोस्तों जिंक एक ऐसा मिनरल होता है। जो कि बालों की ग्रोथ और हेयर फॉलिकल को रिपेयर करने के लिए बहुत जरूरी होता है।इतना ही नहीं जिंक मर्दों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन और बालो और त्वचा  के लिए बहुत जरुरी होता है। जिंक की कमी को पूरा करने के लिए काजू,चिकन,दही,मसूर दाल और कद्दू के बीज का सेवन किया जा सकता है। लेकिन अगर आपके बाल झड़ने के साथ-साथ चेहरे पर एक्ने और पिंपल्स की समस्या समस्या भी है। तो आपके लिए जिंक सप्लीमेंट का इस्तेमाल करना और भी ज्यादा बेहतर होगा। दोस्त अगर आप पिंपल्स की समस्या से परेशान हैं। तो हमने चेहरे पर एक्ने और पिंपल की समस्या से जुड़े हुए चार से पांच पोस्ट लिखे हैं। जिन्हें आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

पानी 

दोस्तों ज्यादातर लोग पानी को बहुत ही साधारण समझ कर इस पर ज्यादा ध्यान नहीं देते। लेकिन शरीर में पानी की कमी होने की वजह से सिर्फ बाल ही नहीं। बल्कि पूरे शरीर का फंक्शन ही बिगड़ जाता है। इसलिए दिन भर में 8 से 10 गिलास पानी पीने का भी खास ख्याल रखना चाहिए। साथ ही साथ ऐसे फल और सब्जी जिनमें पानी की मात्रा ज्यादा होती है। उन्हें अपने खाने में शामिल जरूर करना चाहिए। जैसे कि तरबूज,संतरा,खीरा और गाजर जैसी चीजें। जहां तक हो सके चीनी से बनी चीजें और ज्यादा तेल मसाले और बाहर की चीजों का कम से कम ही इस्तेमाल करें। इस तरह की चीजें हमारे द्वारा खाई गई अच्छी चीजों को भी हमारे शरीर में ठीक तरीके से अब्सॉर्ब नहीं होने देती है।

यह भी पढ़े :-  पानी को गलत मात्रा में और गलत तरीके से पीने से होने वाली समस्याएँ 

इस पोस्ट में हमने जाना कि शरीर में इन चीजों की कमी की वजह से बाल झड़ने लगते है। अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई हो तो आप इस पोस्ट बालो के समस्या से परेशान लोगो के साथ शेयर जरूर करे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *