kashmir encounter

kashmir encounter-सेना ने तीन आतंकियों को मार गिराया 7 सिविलियन भी मरे 1 जवान शहीद

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सेना ने तीन आतंकियों को मार गिराया,7 सिविलियन की भी मारे जाने कि खबर.एक सेना का जवान शहीद kashmir  encounter

kashmir encounter

kashmir encounter:-जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सेना ने तीन आतंकियों को मार गिराया है। सेना को आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली थी। जिसके बाद आज सुबह सर्च ऑपरेशन सुरु हुआ। इस दौरान आतंकियों ने सेना पर गोलीबारी सुरु कर दी। जवाबी फायरिंग में सेना ने हिज्बुल के तीन आतंकियों को मार गिराया। आतंकियों की तरफ से की गयी गोलीबारी में एक सेना का जवान शहीद हो। ये आज की सबसे बड़ी खबर है जो हम आपको बता रहे है।

कमलनाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्य मंत्री

kashmir  encounter सेना के एनकाउंटर में हिज्बुल के कमांडर जहूर ठोकर के मारे जाने की भी खबर है। हालाँकि ठोकर के मारे जाने की आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हुई है। ठोकर का मारा जाना सेना बड़ी कामयाबी मानी जा रही है। ये मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल था। एनकाउंटर के बाद वहाँ के स्थानीय लोगो ने सेना पर पत्थर फेके। जवाबी कार्यवाही में कुछ स्थानीय लोगो भी घायल हुए है। सेना का सर्च ऑपरेशन वहाँ अब भी जारी है।

अब नेपाल में नहीं चलेंगे भारतीय करेंसी के ये नोट

जहूर ठोकर 173 टेरिटोरियल आर्मी का सदस्य था। ठोकर जुलाई 2017 में बारामुला कैंप से गायब हो गया था। ठोकर अपने साथ AK 47 राइफल लेकर भगा था। कैंप से भागने के बाद वो हिज्बुल में शामिल हो गया। अक्टूबर में सेना को जहूर की पुलवामा में होने की खबर मिली थी। लेकिन उस वक़्त ठोकर सेना की घेराबंदी से भागने में कामयाब हो गया था। आपको ये बता दे कि ठोकर पुलवामा जिले का ही रहने वाला था।

Advertisement

Rafale deal-राफेल सौदे में सरकार की बड़ी जीत

kashmir  encounter हिज्बुल के तीनो आतंकी पुलवामा के किसी गांव में छुपे हुए थे। सबसे अच्छी बात यह है की तीनो आतंकियों को मार गिराया गया है। खबर यह भीकि सेना के एनकाउंटर में हिज्बुल के कमांडर जहूर ठोकर के मारे जाने की भी खबर है। हालाँकि ठोकर के मारे जाने की आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हुई है।

आपको बता दे कि हिज्बुल ने जहूर ठोकर को पोस्टर बॉय बनाया हुआ था। ठोकर के जरिये वो ये दिखाने की कोशिस करते थे, कि एक कश्मीरी सेना की नौकरी छोड़कर आतंकी बन रहे है। आपको बता दे कि एनकाउंटर के बाद हुई पत्थर बाजी में सेना के कई जवान भी घायल हो गए है। जवाबी कार्यवाही में 7 सिविलियन की भी मारे जाने कि खबर है। फिलहाल इंटरनेट सर्विसेज पुरे पुलवामा में बंद कर दी गयी है।

Tea-चाय पीने के जानलेवा नुकसान और उनसे बचने के उपाय

फिलहाल सेना मारे गए आतंकियों की पहचान करने में जुटी हुई है। सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है। वहाँ पर हालात अभी भी तनावपूर्ण है। खबर है की सेना का सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी रहेगा।

Leave a Reply