namaj

नोएडा पुलिस ने सार्वजनिक जगहों पर नमाज पढ़ने से लगाई रोक

namaj
namaj

दिल्ली से सटे नोएडा में नोएडा पुलिस ने अथॉरिटी के पार्क और सार्वजनिक जगहों पर नमाज पढ़ने से रोक लगा दी  है। इसके लिए नोएडा के सेक्टर 58 और इंडस्ट्रियल एरिया के सभी कंपनियों को पुलिस ने नोटिस भेजा है। इस नोटिस के अनुसार अगर कंपनी का कोई भी कर्मचारी नमाज पढ़ने के लिए पार्क में जाता है। तो इसकी जिम्मेदार कंपनी होगी। पुलिस के मुताबिक अथॉरिटी पार्क में किसी भी धार्मिक गतिविधि से पहले इजाजत लेनी होगी। नोएडा पुलिस ने सार्वजानिक जगहों और अथॉरिटी के पार्को में नमाज पढ़ने पर रोक लगा दी है। कहा गया है अगर ऐसा करता हुआ कोई भी सख्श पाया गया। तो उसकी जिम्मेदारी उसकी कम्पनी की होगी।

अक्सर देखा जा रहा है कि कम्पनी के कर्मचारी पार्क में नमाज पढ़ते है। इलाके के थाना प्रभारी ने ऐसे ग्रुप को को पार्क में नमाज नहीं पढ़ने के निर्देश दिए है। सिटी मजिस्ट्रेट की तरफ से भी इस तरह की कोई अनुमति नहीं दी गयी है। ऐसे में कंपनियों से उम्मीद की जाती है कि वो अपने कर्मचारियों को पार्क और सार्वजनिक जगहों पर नमाज पढ़ने से मना करेंगे। अगर कोई कर्मचारी पार्क में नमाज पढता है और ये पता चलता है कि कंपनी ने आदेश दिया और उसको जानकारी नहीं दी है तो इसका जिम्मेदार कंपनी को ठहराया जायेगा।

अब बात करते है नमाज पर नोएडा पुलिस को नोटिस जारी करने कि आखिर नौबत क्यों आ गई। पार्क में नमाज पढ़ने वालो की संख्या 10 से पंद्रह लोगो की होती थी। कुछ हफ्तों से शुक्रवार को नमाज पढ़ने वालो की संख्या 500 से ज्यादा हो गई। सार्वजनिक पार्क में नमाज पढ़ने की वजह से पुलिस के पास शिकायत पहुंची। 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान साम्प्रदायिक सौहार्द बनाये बनाए रखने के लिए नोटिस जारी किया गया है। तो शिकायत मिली थी और शिकायत मिलने के बाद ये आदेश जारी हुआ है।

इस नोटिस से ये साफ़ कर दिया गया है कि सार्वजनिक जगहों पर किसी भी प्रकार की धार्मिक गतिविधि को स्वीकार नहीं किया जायेगा। ये नोटिस सभी कंपनियों को भेजा गया है और कंपनियों के गेट पर भी लगाया गया है। जब नोएडा पुलिस को इसकी शिकायत मिली तो नोएडा पुलिस ने इस तरह का नोटिस सभी कंपनियों  को भेजा है।

कृपया इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंचाने के लिए किसी भी प्लेटफार्म {फेसबुक,ट्वीटर,व्हाट्सप्प,} पर शेयर जरूर करे।

जरूर पढ़े

दिल्ली में दीवाली से भी जहरीली हुई हवा

Naina sahni- नैना साहनी तंदूर मर्डर केस

Advertisement

स्कूल की बस खाई में गिरने से दस  की मौत

christmas-बाजार पर चढ़ा christmas का रंग

zero sharukh khan-जीरो क्यों है शाहरुख खान की फिल्म का नाम 

Leave a Reply