शरीर में विटामिन और मिनरल की कमी होने के संकेत या लक्षण 

0
14

दोस्तों हम जो भी खाते हैं वह हमारे पेट से होकर छोटी आंत तक पहुंचता है।फिर छोटी आंत से में पहुंचकर पूरे शरीर में फैल जाता है। लेकिन यहां पर समझने वाली बात यह है कि हर खाने में विटामिंस और मिनरल्स की सही मात्रा नहीं पाई जाती है। इसलिए खानपान में की गई गलतियों की वजह से हमारा पेट तो भर जाता है। लेकिन शरीर में जरूरी न्यूट्रिएंट्स(पोषक तत्वों ) की कमी होने लगती है।शरीर धीरे-धीरे कई तरह की बीमारी का शिकार होने लगता है। क्योंकि विटामिंस और मिनरल्स हमारे शरीर के लिए जरुरी पोषक तत्वों (एसेंशियल न्यूट्रिएंट्स)  है। इसलिए विटामिंस और मिनरल्स की कमी को खाने के जरिए पूरा करना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि यह हमारे शरीर के पूरे अंगों को अलग-अलग तरह से ठीक तरीके से काम करने और शरीर को कई तरह की बीमारियों से बचाने के लिए बहुत मदद करता है।

शरीर में विटामिन और मिनरल की कमी होने के संकेत या लक्षण 

लेकिन यहां समस्या यह है कि अक्सर लोगों को पता ही नहीं है कि खाने में कौन से विटामिन पाए जाते हैं। शरीर में किस पोषक तत्व (न्यूट्रिएंट्स) की कमी होने से कौन सी बीमारी शुरू हो सकती है। लेकिन यह अच्छी बात है कि जब भी हमारे  शरीर में किसी भी तरह के पोषक तत्व की कमी होती है। तो बड़ी बीमारी आने से पहले हमारा शरीर छोटे-छोटे संकेत देकर। अपने अंदर हो रही हलचल के बारे में कई तरह से बताने की कोशिश करता है। जिसे ज्यादातर लोग बहुत ही साधारण समझकर देखते हुए भी अनदेखा कर देते हैं। इसलिए आज की इस पोस्ट मैं आपको शरीर में विटामिंस और मिनरल्स की कमी से होने वाले लक्षणों के बारे में बताऊंगा।  जिसे आपको नजरअंदाज बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए और साथ में यह भी जानेंगे कि किस तरह से विटामिंस की कमी को पूरा किया जा सकता है।

शरीर में विटामिन-C की कमी होने के संकेत या लक्षण 

दोस्तों ब्रश करते समय या किसी भी सख्त चीज को खाते समय मसूड़ों से खून आना , जोड़ों में दर्द शरीर और चेहरे की त्वचा रूखी बेजान और ढीली पड़ना।  शरीर में विटामिन-C की कमी का संकेत हो सकता है। क्योंकि विटामिन-C एकअच्छा एंटीऑक्सीडेंट होने के साथ-साथ। यह हमारे शरीर में कोलाइजन प्रोड्यूस करता है।  कोलाइजन एक तरीके का प्रोटीन होता है। जो कि जोड़ों में और हमारी त्वचा के ऊपरी सतह में सबसे ज्यादा मौजूद होता है। यह खराब हुई त्वचा को ठीक करता है और हड्डियों के बीच कोलाइजन टिशूज को मेंटेन करने में बहुत मदद करता है। इतना ही नहीं विटामिन-C हमारे शरीर में आयरन को ठीक से एब्जॉर्ब करने में बहुत मदद करता है। इसका मतलब यह है कि शरीर में विटामिन-C की कमी होने से आयरन ठीक से एब्जॉर्ब नहीं हो पाता और इसलिए इसलिए शरीर में आयरन की भी कमी होने लगती है। विटामिन-C की कमी को पूरा करने के लिए आंवला,निंबू संतरा और अमरूद में से किसी एक चीज को अपने खाने में शामिल किया जा सकता है।

शरीर में आयरन और हिमोग्लोबिन के कम होने के संकेत या लक्षण 

त्वचा का पीला पड़ना, हर वक्त थकान रहना,कमजोरी,सरदर्द और सिर में भारीपन महसूस होना। नाखून और होठों का रंग फीका पड़ना,शरीर में आयरन और हिमोग्लोबिन के कम होने के संकेत हो सकते हैं। क्योंकि आयरन हीमोग्लोबिन का एक इंपॉर्टेंट हिस्सा होता है। जो कि ब्लड प्रोडक्शन में एक अहम रोल प्ले करता है। खून में मौजूद हीमोग्लोबिन हमारे फेफड़ों से ऑक्सीजन को शरीर के दूसरे हिस्से तक पहुंचाने का काम करता है। इसलिए शरीर में आयरन की कमी होने से सांस लेने में  दिक्कत होने जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं।आयरन की कमी होना इतना आम बात है कि सिर्फ हमारे देश भारत में हर साल लगभग एक करोड़ लोग आयरन की कमी के शिकार हो जाते हैं। नट्स,सीड्स एनिमल लीवर और पालक,बींस,अंडे और बीटरूट में काफी मात्रा में आयरन पाया जाता है। इसलिए इनमें से किसी एक को अपने खाने में शामिल जरूर करें।

शरीर में कैल्शियम की कमी होने के संकेत या लक्षण 

कमजोर दांत और कमजोर नाखून शरीर में कैल्शियम की कमी को दर्शाते हैं। जबकि लंबे समय तक शरीर में कैल्शियम की कमी होने से यह अर्थराइटिस जैसी बीमारी को भी जन्म दे सकता है। कैल्शियम की कमी होना भी बहुत ही आम बात है और इसलिए सिर्फ हमारे देश भारत में हर साल लगभग दस लाख लोग कैल्शियम की कमी का शिकार हो जाते हैं। दूध,दही और पनीर में कैल्शियम की सबसे ज्यादा मात्रा पाई जाती है। इसके अलावा ब्रोकली,पालक भिंडी और सूखे अंजीर में भी कैल्शियम की मात्रा ज्यादा पाई जाती है।

शरीर में विटामिन-D की कमी होने के संकेत या लक्षण

बार बार बीमार पड़ना,डिप्रेशन,बदन दर्द और हड्डियों की कमजोरी शरीर में विटामिन-D की कमी के संकेत हो सकते हैं।  ऐसा इसलिए होता है क्योंकि विटामिन-D शरीर में कैल्शियम को ठीक से अब एब्सॉर्ब  होने में मदद करता है। इसलिए शरीर में विटामिन-D  की कमी होने से कैल्शियम ठीक से एब्सॉर्ब भी नहीं हो पाता और इसलिए शरीर में कैल्शियम की भी कमी होने लगती है। विटामिन-D की कमी का सबसे बड़ा कारण धूप में ना निकलना होता है। इसलिए जिन लोगों का ज्यादा समय घर या ऑफिस में गुजरता है और कई कई दिन तक धूप का सामना नहीं होता। ऐसे लोगों के शरीर में विटामिन-D की कमी होने के अवसर बहुत ज्यादा रहते हैं। क्योंकि सूरज की किरने हमें नेचुरल ही विटामिन-D देती है। इसलिए सिर्फ 10 से 15 मिनट धूप में बिताने से विटामिन-D की कमी काफी हद तक दूर हो जाती है। लेकिन शरीर में  कमी होने से पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी और सेक्सुअल डिस्फंक्शन भी देखे जा सकते हैं। अगर आप धूप में नहीं निकल सकते तो दूध,मशरूम,पनीर और सेलमैन जैसी मछलियों का सेवन जरूर करें। क्योंकि इनमें  विटामिन-D की अच्छी खासी मात्रा पाई जाती है।

शरीर में विटामिन-B की कमी होने के संकेत या लक्षण

दरअसल विटामिन-B कई तरीके का होता हैं। लेकिन इनमें से कुछ ही विटामिन ऐसे होते हैं। जिनकी लोगों के शरीर में कमी हो जाती है। जैसे की  विटामिन-B12 ऐसा विटामिन होता है। जिसकी ज्यादातर लोगों के शरीर में कमी पाई जाती है।

शरीर में विटामिन-B12 की कमी होने के संकेत या लक्षण

विटामिन-B12 ऐसा विटामिन होता है। जिसकी ज्यादातर लोगों के शरीर में कमी पाई जाती है। इसलिए सिर्फ हमारे देश भारत में लगभग एक करोड़ लोग हर साल विटामिन-B12 की कमी के शिकार हो जाते हैं। शरीर में विटामिन-B12 की कमी होने से शरीर का पीला पड़ना और खून की कमी जैसे लक्षण देखे जा सकते हैं. विटामिन-B12 ज्यादातर वेजीटेरियन भोजन में नहीं पाया जाता है। इसलिए इसकी कमी को पूरा करने के लिए एनिमल लीवर दूध,दही और अंडा,चिकन,सेलमन जैसी मछलियों को अपने भोजन में शामिल किया जा सकता है।

शरीर में विटामिन-B2,विटामिन-B3,विटामिन-B1 और विटामिन-B6 की कमी के संकेत और लक्षण 

इसके अलावा अगर आपको साफ नहीं देखता और चिड़चिड़ापन महसूस होता है। तो यह विटामिन-B1 के संकेत हो सकते हैं।  होठों में अल्सर,मुंह के साइड के हिस्से में दरार या  किया फिर कट आना। विटामिन-B2 की कमी के संकेत हो सकते हैं। मुंह के आसपास लाल धब्बे और होठों का फटना विटामिन-B6  की कमी के कारण होता है। क्योंकि विटामिन-B3 की कमी होने से पाचन में गड़बड़ी और हील क्रैक जैसी प्रॉब्लम हो सकती है। विटामिन-B1 और विटामिन-B6 की कमी को पूरा करने के लिए फल,सब्जी,ड्राई फ्रूट्स दूध  जैसी चीजों को अपने खाने में शामिल करना चाहिए। जबकि विटामिन-B3 की कमी को पूरा करने के लिए चिकन ब्रेस्ट और ब्राउन राइस जैसी चीजों को अपने खाने में शामिल किया जा सकता है।

शरीर में बायोटीन की कमी होने के संकेत या लक्षण

अब बात करते हैं। बायोटीन के बारे में। दोस्तों बायोटीन भी एक तरीके का विटामिन-बी कांपलेक्स होता है। जिसे विटामिन-B7 के नाम से भी जाना जाता है। शरीर में बायोटीन की कमी होने से रूखे,बाल ड्राई स्किन बालों का झड़ना और नींद ना आना जैसे लक्षण देखे जा सकते हैं। हालांकि बाल झड़ने के और कई दूसरे कारण भी हो सकते हैं। जिसके बारे में हम आगे वाली पोस्ट में जरूर बताएंगे। वैसे तो ज्यादातर लोगों में बायोटीन की कमी नहीं होती। लेकिन कुछ मेडिकल कंडीशन और जो लोग कच्चे अंडे का सेवन करते हैं। उनके शरीर में बायोटीन की कमी होने के अवसर बहुत ज्यादा होते हैं। क्योंकि कच्चे अंडे में मौजूद अविडीन नाम का प्रोटीन। बायोटीन के साथ बाइंडिंग करके बायोटीन को शरीर में एब्सॉर्ब होने से रोकता है। जिससे कि लंबे समय तक कच्चे अंडे का इस्तेमाल करते रहने से शरीर में बायोटीन की कमी धीरे-धीरे होने लगती है। बायोटीन की कमी को पूरा करने के लिए काजू,बादाम,टमाटर,अखरोट,गाजर और पालक जैसी चीजों को अपने खाने में शामिल किया जा सकता है।

शरीर में विटामिन-E की कमी होने के संकेत और लक्षण 

वैसे तो विटामिन-E की कमी ज्यादा आम बात नहीं है। इसलिए यह बहुत कम लोगों में ही पाई जाती है। लेकिन जब इसकी कमी होती है। तो मसल वीकनेस और बदन दर्द जैसे लक्षण देखे जा सकते हैं। विटामिन-E  एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट होने की वजह से यह त्वचा और बालों के लिए भी बहुत जरूरी होता है। इसलिए विटामिन-E  की कमी को पूरा करने के लिए कद्दू के बीज बादाम,जैतून और पालक जैसी चीजों को अपने खाने में शामिल किया जा सकता है।

शरीर में विटामिन-A की कमी होने के संकेत और लक्षण

हालांकि विटामिन-A की कमी होना भी बहुत ही आम बात नहीं है। लेकिन जब भी इसकी कमी होती है। तो आंखों में सफेद धब्बे और रात को कम दिखाई पड़ना शरीर में विटामिन-A  की कमी के संकेत हो सकते हैं। इसकी कमी को पूरा करने के लिए शकरगंद, गाजर,ब्रोकली और पालक जैसी चीजों का अपने खाने में शामिल किया जा सकता है।

शरीर में जिंक की कमी होने के संकेत और लक्षण

अब बात करते हैं जिंक के बारे में। दोस्तों जिंक anti-inflammatory और हीलर की तरह काम करता है। इसलिए इसकी कमी होने से जख्मों का धीरे-धीरे बढ़ना,चेहरे पर लगातार बड़े-बड़े पिंपल्स आते रहना, एग्जिमा या किसी भी तरह की त्वचा की समस्या ठीक ना होना। शरीर में जिंक की कमी के संकेत हो सकते हैं।जिंक की कमी को पूरा करने के लिए दूध,दही,चिकन अंडा और कद्दू के बीज जैसी चीजों को अपने खाने में शामिल किया जा सकता है।

लेकिन यहां भी अगर आपके चेहरे पर एकली और पिम्पल  की समस्या है। तो आप के लिए जिंक की कमी को पूरा करने के लिए कद्दू का इस्तेमाल करना एक ज्यादा बेहतर ऑप्शन है। यहां एक बात का ख्याल रखना जरूरी है कि ऊपर मैंने जितनी भी समस्या बताई है जैसे कि बालों का झड़ना,एड़ी का फटना,पाचन में गड़बड़ी,घुटनों का दर्द,चेहरे पर पिम्पल ,एग्जिमा,आंखों में सफेद धब्बे। यह सभी विटामिंस की कमी की वजह से होते हैं। लेकिन इनके होने के और भी कारण हो सकते हैं। इसलिए इसे डिटेल में समझने की जरूरत है।

दोस्तों इन सभी लक्षणों  भूलकर भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। शरीर में विटामिंस और मिनरल्स कम होने के संकेत और लक्षण पर  फिलहाल मेरा यह पोस्ट लिखने का मकसद यह है कि जहां तक हो सके कि आप अपने खाने को बैलेंस रखने की कोशिश करें। इसलिए फल,सब्जी और सलाद का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें और थोड़ी मात्रा में ड्राई फ्रूट्स,दूध,दही और अगर आप नॉनवेज खाते हैं। तो थोड़ी मात्रा में अपने खाने में नॉनवेज का भी ऐड जरूर करें बहुत ज्यादा तेल मसाले और बाहर के खाने का कम से कम ही इस्तेमाल करें।

अब तक आपने इस पोस्ट में शरीर में विटामिन-C की कमी होने के संकेत या लक्षण , शरीर में विटामिन-A  की कमी होने के संकेत या लक्षण , शरीर में विटामिन-E  की कमी होने के संकेत या लक्षण , शरीर में विटामिन-B की कमी होने के संकेत या लक्षण , शरीर में विटामिन-D की कमी होने के संकेत या लक्षण , शरीर में जिंक की कमी होने के संकेत और लक्षण , शरीर में बायोटीन की कमी होने के संकेत या लक्षण , शरीर में कैल्शियम की कमी होने के संकेत या लक्षण , शरीर में आयरन और हिमोग्लोबिन के कम होने के संकेत या लक्षण के बारे में जानकारी प्राप्त की। मैं उम्मीद करता हूँ की आपको ये जानकारी पसंद आई होगी।

दोस्तों शरीर से जुडी अन्य समस्याओ जैसे की पिम्पल समस्या को ठीक करने के लिए और अन्य खाने और पिने की चीजों के फायदे और नुकसान पर हमने पहले भी बहुत से पोस्ट लिख रखे हैं। जिनको आप निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते है।


यह भी पढ़े:- ये खाना बनता है आपके पिम्पल को बद से बदतर

यह भी पढ़े :- ये चीजे खाने से आपका पिम्पल जड़ से खत्म हो जाएगा 

यह भी पढ़े :- 20 गलतियाँ जो आपके चेहरे के पिम्पल को बद से बदतर बना देती है

यह भी पढ़े:- omega-3 क्या होता है omega-3 हमारे शरीर के लिए जरूरी क्यों है

यह भी पढ़े :- वजन बढाने के सबसे जबरदस्त नुस्खे और मोटा होने का सही तरीका

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here